Home » जरा हटके » होली पर मौत की रेल
TRAIN

होली पर मौत की रेल

जब भी कोर्इ रेल हादसा होता है तो जाच बैठती है और काम खत्म उसके बाद रेल की सुरक्षा देखने वाला केवल भगवान है। होली के अवसर पर ट्रेनो मे जबरजस्त भीड है। रेल के डब्बे फुल है लोग अपनी जान की परवाह किये बिना 2500 वोल्ट की लार्इन के नीचे व रेल के डब्बो के उपर बैठ कर आराम से यात्रा कर रहे है। ट्रेन के आने पर यात्री पलेटफार्म छोड कर पटरी के दोनो तरफ खडे है जिससे डब्बे मे सीट मिल जाये और ट्रेन के आते ही भग कर चलती ट्रेन मे चढने का प्रयास करते दिखे। लेकिन कोर्इ पुलिस वाला कही भी रेलवे स्टेशन पर मौजूद नही है जो लोगो को अपनी जिन्दगी खतरे मे डालने से रोक सके। सबकी जान की रक्षा भगवान के हवाले है। इक्का दुक्का पुलिस वाले दिखार्इ भी दिये तो वो अपने लोगो को रेल मे सीट दिलवाने मे व्यस्त दिखे। ऐसे हालातो मे जैसे ही कोर्इ हादसा होता है तो कागजो मे हर जगह पुलिस की मौजूदगी होती है और जाच बैठा कर कुछ पुलिस वालो को सस्पैन्ड कर दिया जाता है। हादसे मे मरने वालो को मुआवजा देकर रेलवे अपना पल्ला झाड लेता है। जब हमने रेल की छतो पर बैठे यात्रीयो को दिखा कर स्टेशन अघीक्षक ए.के.शुक्ला से बात करने की कोशिश की तो उन्होने यह कहते हुए बात करने से इंकार कर दिया की इनको रोकना पुलिस की जिम्मेदारी है। जब रेलवे स्टेशन अघीक्षक जैसा बडा प्रशासनिक अफसर ऐसी बात करेगा तो रेल यात्रीयो की जान की सुरक्षा की गारंटी कौन लेगा।
बार्इट :- अनील (रेल यात्री)
बार्इट :- विनय कुमार (रेल यात्री)
बार्इट :- राघा रेल (रेल यात्री)
बार्इट :- ए.के.शुक्ला (स्टेशन अघीक्षक)

YouTube Preview Image

482 total views, 1 views today

अपनी राय दें

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

593

एस.वी काॅलेज में हुआ साईबर क्राईम का लेकर एक कार्यक्रम

अलीगढ़ : समाज में निरंतर बढ़ रहे साइबर अपराधों की मूल वजह जागरूकता व जानकारी ...

592

इगलास में कार ने बाईक में मारी टक्कर एक की मौत

एंकरः-अलीगढ़। इगलास के कोतवाली क्षेत्र गांव सहारा कला निवासी रामबाबू पुत्र हरी सिंह व अयज ...

591

खैर में पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या

एंकरः-अलीगढ़। खैर तहसील दफ्तर गेट के सामने सुबह महगौरा के पूर्व प्रधान की बाइक सवार ...